Saturday, July 13, 2024
No menu items!
Homeछत्तीसगढ़भवन जर्जर होने से मुख्यालय से 25 किमी दूर शिफ्ट हुआ कृषि...

भवन जर्जर होने से मुख्यालय से 25 किमी दूर शिफ्ट हुआ कृषि विभाग का दफ्तर, किसानों को हो रही परेशानी

तखतपुर. क्षेत्र के किसानों को कृषि विभाग से संबंधित कार्यों जैसे खाद, बीज, पीएम किसान सम्मान निधि सहित अन्य योजनाओं का लाभ लेने के लिए बड़ी परेशानी उठानी पड़ रही है. इसकी वजह विभाग के कार्यालय को जर्जर भवन होने के कारण मुख्यालय से 25 किमी दूर शिफ्ट किया जाना है. इसके चलते तखतपुर के अंतिम छोर के किसानों को लगभग 50 किलोमीटर से भी अधिक दूरी तय करनी पड़ रही.

कृषि विभाग कार्यालय का भवन जर्जर होने के कारण इस कार्यालय को तखतपुर मुख्यालय से 25 किलोमीटर दूर चोरभट्टी में शिफ्ट किया गया है. खेती किसानी के दिनों में मुख्यालय में कार्यालय नहीं होने से खाद और बीज के लिए किसानों को दिक्कत हो रही है. किसान कार्यालय को तखतपुर में वापस खोलने के लिए अधिकारी और नेताओं से फरियाद कर रहे हैं.

उधार की बिल्डिंग में हो रहा था कृषि विभाग का संचालन

मुख्यालय में कृषि विभाग का खुद की बिल्डिंग नहीं है. पूर्व में कृषि विभाग के अधिकारी ने जर्जर भवन की मरम्मत को लेकर लगातार जनपद पंचायत के अधिकारियों को पत्र लिख रहे थे. जर्जर भवन की शिकायत पत्र को जनपद अधिकारी लगातार नजरअंदाज कर रहे थे. कार्यालीन समय पर भवन से कई बार छत से प्लास्टर गिरने की घटना भी हो चुकी थी. इससे वहां कार्य कर रहे अधिकारियों और कर्मचारियों में भय का माहौल था. इसकी जानकारी कर्मचारियों ने अपने कृषि विभाग के उच्च अधिकारी को जानकारी दी. इसके बाद तखतपुर कार्यालय को 25 किलोमीटर दूर शिफ्ट कर दिया गया.

तखतपुर में ही शिफ्ट किया जा सकता था कृषि विभाग का दफ्तर

दरअसल कृषि विभाग कार्यालय तखतपुर के भवन की मरम्मत वर्षों से नहीं होने के कारण छत का प्लास्टर गिरने लगा है. बरसात के दिनों में दीवारों में बिजली का करंट भी महसूस होता है. पिछले दिनों कार्यालय भवन का छत का प्लास्टर गिरने से पीएम किसान सम्मान निधि का काम देखने वाले आशीष शर्मा बाल बाल बच गए. इसके बाद भवन को ताला लगा दिया गया और सूचना उच्चाधिकारियों को दी गई. इसके बाद उच्चाधिकारियों ने कार्यालय को मुख्यालय से 25 किलोमीटर दूर शिफ्ट करने का फरमान जारी कर दिया. मुख्यालय में ही वैकल्पिक भवन की उपलब्धता के लिए प्रयास ही नहीं किया गया, जबकि नगर में ही कई शासकीय भवन है, जिनमें कार्यालय को शिफ्ट कर मुख्यालय में ही कार्य किया जा सकता था. उच्चाधिकारियों को केवल कर्मचारियों की परेशानी दिखी, लेकिन किसानों को होने वाली परेशानियों को नजर अंदाज कर दिया गया.

अफसर बोले – मुख्यालय में ही भवन दिलाने का किया है आग्रह

इस मामले में वरिष्ठ कृषि विस्तार अधिकारी एके सत्यपाल ने बताया कि मुख्यालय में विभागीय कार्यालय भवन जर्जर होने के कारण उच्चाधिकारियों के निर्देश पर कार्यालय को चोरभट्ठी खुर्द शिफ्ट किया गया है. विधायक और एसडीएम से मुख्यालय में ही भवन उपलब्ध कराने का निवेदन किया है, लेकिन अभी तक भवन उपलब्ध नहीं हुआ है.

Ravindra Singh Bhatia
Ravindra Singh Bhatiahttps://ppnews.in
Chief Editor PPNEWS.IN. More Details 9755884666
RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular