Sunday, May 19, 2024
No menu items!
Homeछत्तीसगढ़बाइक से टक्कर के बाद महिला के परिजनों ने एक शख्स के...

बाइक से टक्कर के बाद महिला के परिजनों ने एक शख्स के साथ जैसा सलूक किया वो इंसानियत को शर्मसार करने वाला

गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही। अगर कोई गलती करे तो क्या लोगो को कानून हाथ में लेने का हक हो जाता है ? पेण्ड्रा के बसंतपुर में ऐसी घटना सामने आई जिसे लेकर ये सवाल खडा हो रहा हैं. यहां बाइक से टक्कर के बाद महिला के परिजनों ने एक शख्स के साथ जैसा सलूक किया वो इंसानियत को शर्मसार करने वाला है.

दरअसल, गुरुवार की शाम बसंतपुर में सड़क पर दौड़ रहे बच्चे को बचाने के चक्कर में बाइक सवार युवक किनारे चल रही महिला से टकरा गया. इससे गुस्साई महिलाओं ने अपने परिवार के लोगो को बुलाकर बाइक सवार की बेरहमी से पिटाई कर दी. जिसके बाद उसे घायल अवस्था में अस्पताल ले जाय गया जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई. इस वारदात की सूचना के बाद आक्रोशित परिजनों ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाकर दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है.

बता दें कि मृतक का नाम रामा पनिका है जो कि जिले के आमाडांड गांव का रहने वाला था, मृतक के भाई रामप्रसाद ने बताया कि रामा की पत्नी की मौत हो चुकी है और वह मजदूरी कर अपने माता-पिता और 10 साल के बेटे का भरण पोषण करता था. गुरुवार को रामा किसी काम से पेण्ड्रा आया था. काम निपटने के बाद वह अपनी बाइक से वापस घर लौट रहा था. इस दौरान बसंतपुर के पास महिलाएं बच्चों के साथ सड़क पर टहल रही थी. इसी दौरान एक बच्चा सड़क पर दौड़ने लगा, जिसे बचाने के चक्कर में रामा आशा साहू से जा टकराया. टक्कर की वजह से उसे चोट लगी थी, जिसके बाद उसने अपने परिजनों को फोन कर मौके पर बुलवाया. इसके बाद मौके पर पहुंचे जगजीत साहू, दुर्गा प्रसाद साहू और घर की महिला सदस्यों ने आशा को अस्पताल भेजा और रामा के साथ मारपीट करने लगे.

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक घटना के दौरान आसपास के ग्रामीणों और राहगीरों ने उन्हें रोकने की भी कोशिश की, लेकिन उन्होंने लोगो की एक न सुनी और रामा को मारते-मारते अधमरा कर दिया. इस दौरान वह बेसुध हो गया था. इधर किसी ने घटना की जानकारी रामा के भाई रामप्रसाद को दी. जिसके बाद वह मौके पर पहुंचे और एंबुलेंस से अपने घायल भाई को अस्पताल पहुंचाया. इसके बाद डॉक्टरों रामा की हालत देख उसे बेहतर इलाज के लिए बिलासपुर सिम्स रेफर कर दिया. जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.

गुस्साएं परिजन मांग रहे इंसाफ

बता दें कि रामा की मौत से जहां एक ओर उसके वृद्ध माता-पिता का सहारा छिन गया है. वहीं, 10 साल का बेटा भी बेसहारा हो गया है. रामा की मौत से आक्रोशित परिजनों और समाज के लोगों ने पेण्ड्रा थाने पहुंचकर आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज करवाकर दोषियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने की मांग की है. वहीं पेण्ड्रा पुलिस मर्ग कायम कर मामले की जांच में जुट गई है.

Ravindra Singh Bhatia
Ravindra Singh Bhatiahttps://ppnews.in
Chief Editor PPNEWS.IN. More Details 9755884666
RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular