Sunday, May 19, 2024
No menu items!
Homeछत्तीसगढ़मजदूर की बेटी और मूर्तिकार के बेटे ने टॉप टेन में बनाई...

मजदूर की बेटी और मूर्तिकार के बेटे ने टॉप टेन में बनाई जगह, जानिए सफलता के राज..

बालोद/धमतरी/रायपुर. छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल ने आज 10वीं और 12वीं बोर्ड का परीक्षा परिणाम घोषित किया. बालोद जिले के 11 छात्र 10वीं टॉप 10 में जगह बनाने में सफल हुए तो वहीं 12वीं की एक मात्र छात्रा हर्षवती साहू टॉप 10 में जगह बनाते हुए 96% के साथ पांचवां स्थान हासिल किया है. वहीं धमतरी के मूर्तिकार के बेटे समीर चक्रधारी ने 12वीं में टॉप टेन में जगह बनाते हुए प्रदेश में चौथा स्थाना हासिल किया है.

स्वामी आत्मानंद हिंदी मीडियम स्कूल झलमला की छात्रा हर्षवती शुरू से मेधावी छात्रा है. उन्होंने दसवीं में भी टॉप टेन में जगह बनाने की कोशिश की थी, लेकिन सफल नहीं हो पाई. आज 12वीं में टॉप टेन में पांचवें स्थान हासिल कर अपने व माता-पिता और जिले का नाम रोशन किया है. परीक्षा परिणाम के आने के बाद घर में बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है. वहीं स्कूल के शिक्षक भी उनके घर पहुंचकर छात्रा को मिठाई खिलाकर बधाई दी.

हर्षवती ने बताया कि मुझे गणित का विषय काफी कठिन लगता था. 10वीं में ही सपना था कि मैं टॉप टेन में जगह बना लूं, लेकिन किन्ही कारणों के चलते मैं उस समय टॉप टेन में जगह नहीं बना पाई, लेकिन आज मैं 12वीं में टॉप टेन में जगह बना ली हूं. मुझे अभी भी विश्वास नहीं हो रहा है, लेकिन मैंने टॉप टेन में जगह बना ली है. मेरे पिता किसान है. किसानी का काम करते हैं और जब खाली रहते हैं तो मिस्त्री का काम करते हैं और हमारा लालन पालन करते हैं. मेरे पिता और टीचरों का काफी योगदान रहा है.

टीचरों के लेक्चर को कभी मिस नहीं किया : हर्षवती

हर्षवती ने बताया, मैं घर में तो सिर्फ 2 घंटे पढ़ाई करती थी, लेकिन स्कूल में टीचरों के लेक्चर को मिस नहीं करती थी. हमेशा मैं अपने टीचरों की बात मानती थी, जिसका नतीजा है कि आज मैं टॉप टेन में जगह बना पाई हूं. मेरा सपना तो मैं अभी किसी को नहीं बता सकती हूं. उसको राज ही रखना है और आगे खूब पढ़ाई करना चाहती हूं. आर्ट के स्टूडेन्ट भी टॉप टेन में जगह बना सकते हैं. आज मैंने साबित कर दिया है. आर्ट के स्टूडेंट्स भी खूब पढ़ाई करें, ताकि अच्छा मुकाम हासिल हो.

सिविल सेवा की परीक्षा देना चाहता है समीर

पूरे प्रदेश में धमतरी के समीर चक्रधारी ने 12वीं में टॉप टेन में जगह बनाते हुए प्रदेश में चौथा स्थाना हासिल किया है. धमतरी से 50 किमी दूर मगरलोड क्षेत्र के भोथीडीह गांव में रहने वाले समीर गरीब किसान परिवार से है. उनके पिता के पास महज 2 एकड़ खेत है. अपना गुजर बसर करने परिवार के लोग मूर्ति बनाते हैं, जो उनका परम्परागत पेशा है. समीर भविष्य में सिविल सेवा की परीक्षा देना चाहता है, जिसके लिए उसे छत्तीसगढ़ सरकार से मदद की उम्मीद है. समीर गणित संकाय का छात्र है. घर में माता पिता के अलावा समीर और उसकी छोटी बहन रहते हैं.

रोज 6 से 7 घंटे करती थी पढ़ाई : अंशिका सिंह ठाकुर

वहीं प्रदेश में दसवीं क्लास की अंशिका सिंह ठाकुर ने टॉप टेन में जगह बनाते हुए प्रदेश में चौथे स्थान पर है. उन्होंने 98.17 प्रतिशत अंकों से टॉप किया है. विधानसभा के पास मोहंदी की रहने अंशिका सिंह ठाकुर गवरमेंट हाईस्कूल मोहंदी की छात्रा है. अंशिका ने कहा, कड़ी मेहनत से सफलता मिली. बिना कोचिंग के पढ़ाई की थी. रोजाना 6 से 7 घंटे पढ़ाई करती थी. उन्होंने सफलता का श्रेय अपने माता-पिता और गुरुजनों को दिया है. उन्होंने कहा, भविष्य में क्या करना है फिलहाल नहीं सोचा है.

Ravindra Singh Bhatia
Ravindra Singh Bhatiahttps://ppnews.in
Chief Editor PPNEWS.IN. More Details 9755884666
RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular