ग्रामीण विकास परिषद द्वारा आयोजित महिलाओं की सुरक्षा एवम बचाव की कार्यशाला कलेक्टर जशपुर के आतिथ्य में सम्पन्न

जशपुर।।जशपुर जिले के पत्थलगांव में विश्व युवक केंद्र नई दिल्ली के सहयोग से ग्रामीण विकास परिषद पत्थलगांव द्वारा 2 दिवसीय राज्य स्तरीय कार्यशाला के समापन अवसर में पहुंचे जशपुर कलेक्टर नीलेश कुमार महादेव क्षीर सागर ने ग्रामीण विकास परिषद के कार्यो की सराहना करते हुवे यह प्रशिक्षण ले चुकी महिलाओ को प्रशस्ति पत्र व प्रतीक चिन्ह सौपा

इस मौके पर ग्रामीण विकास परिषद के अध्यक्ष श्री रविन्द्र सिंह भाटिया ने जशपुर कलेक्टर श्री नीलेश कुमार महादेव क्षीर सागर जी को प्रतीक चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया

,इस मौके पर कलेक्टर ने कहा कि महिला सुरक्षा के प्रति आयोजित यह कार्यशाला हमारे जशपुर के लिए गर्व की बात है,

उन्होंने कहा कि महिला सुरक्षा आर्थिक स्वालम्बन के बगैर पूरा नही हो सकती आर्थिक स्वालम्बन के तहत शासन की कई महत्वपूर्ण योजनाए संचालित है महिलाये इन योजनाओं का लाभ लेकर आर्थिक तौर पर मजबूत बन सकती है,उन्होंने सिंगापुर के तरक्की में महिलाओं के आर्थिक स्वालम्बन के महत्वपूर्ण योगदान की जानकारी देते हुवे ग्रामीण क्षेत्र में महिलाओं द्वारा समूह बनाकर टमाटर उत्पादन, दूध उत्पादन के क्षेत्र में महिलाओं को आगे लाकर उन्हें आत्म निर्भर किया जा सकता है यह हमारा प्रयास है,

उन्होंने महिलाओं को आर्थिक गतिविधि में आगे लाने के लिए जिला प्रशासन द्वारा हर सम्भव मदद की बात कही,उन्होंने जशपुर जिले में सामाजिक संगठन के साथ मिलकर सभी लोगो के आर्थिक सुधार कार्य हेतु कार्य करने का आश्वासन दिया,

इस मौके पर ग्रामीण विकास परिषद के रविंद्र सिंग भाटिया,हरजीत सिंग भाटिया,प्रीतपाल सिंग भाटिया, चिररू राम भगत सुखरा पारा, श्री पास्कल पन्ना,श्री माना राम,श्री धरणीधर सिदार bdc, श्री बक्षराज चौहान,श्री देवेंद्र चौहान,श्री सुदामा शर्मा,श्री जे डी सिंह,डॉ संतोष पटेल,पपत्थलगांव एसडीएम श्री एस के टंडन,, तहसीलदार श्री महेश शर्मा ,पीडब्लूडी एसडीओ श्री केके सरल,एरिगेशन एसडीओ श्री एस के धमीजा जिला शिक्षा अधिकारी श्री डी आर धुर्व जी ,जनसंपर्क सहायक संचालक श्री नईम खानजी,बी आर सी श्री मिर्झा जी समेत शहर के अन्य नागरिक व समाज सेवी एवं सैकड़ो महिलाएं उपस्थित थी।

इससे पूर्व 28 जून को कार्यशाला का विधिवत दीप प्रज्वलित कर उदघाटन श्रीमती फुलेश्वरी सिंह जी अध्यक्ष जिला पंचायत सरगुजा के कर कमलों से सम्पन्न हुआ

श्रीमती फुलेश्वरी सिंह जी


उदघाटन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिला पंचायत अध्यक्ष सरगुजा ने कहा कि महिलाएं सुरक्षित और आत्मनिर्भर होना चाहती है तो सबसे पहले उनमें आत्मविश्वास होना चाहिए हम आत्मविश्वास से आगे आएंगी तो हम अपनी सुरक्षा और बचाव कर पाएंगी

संस्था की ओर से श्री रविन्द्र सिंह भाटिया ने श्रीमती फुलेश्वरी सिंह को प्रतीक चिन्ह भेंट कर सम्मान दिया गया,इस अवसर पर विश्व युवक केंद्र दिल्ली से श्री राजीव निर्मल जी भी साथ मंचस्थ थे

महिलाओं की सुरक्षा एवम बचाव हेतु सत्र में सर्वप्रथम अम्बिकापुर से आई पूर्व जिला अधिकारी महिला एवम बाल विकास वंदना दत्ता जी ने महिलाओं को सुरक्षा हेतु आने वाली परेशानियों चाहे वो घर मे हो,चाहे समाज मे उनकी चर्चा कर उनके बचाव पर प्रकाश डालते हुए प्रतिभागियों से चर्चा कर विचारों एवं सुझाव का आदान प्रदान किया

शारिरिक सुरक्षा एवम महिलाओं के माहवारी के दौरान पुरातन समय से चल रही कुरीतियों पर श्रीमती सपना सराफ जी बिलासपुर द्वारा चर्चा कर माहवारी के दौरान सेनेटरी पेड़ का स्तेमाल न कर अन्य मिथक के अनुसार उपयोग कर लिया जाता है जिससे होने वाली बीमारियों पर भी चर्चा हुई

धयान(मेडिटेशन) के माध्यम से महिलाएं आत्मिक, शारिरिक रूप से कैसे सुरक्षित रहे विषतार से चर्चा रायपुर से आई ध्यान गुरु सुश्री फूल टोसी चक्र व्रती जी द्वारा की गई और ध्यान कराकर इसका प्रत्यक्ष प्रदर्शन भी किया गया।

शासन की योजनाओं के माध्यम से महिलाओं की आत्म निर्भरता पर चर्चा करते हुए श्रीमती द्रोपदी यादव ने समस्त योजनाओं की जानकारी दी

भिलाई महिला महाविद्यालय की सहायक प्राध्यापक डॉ सुरैया बानो ने महिलाओं को सेल्फ सेस्क्युरिटी पर ट्रेनिंग देते हुए कालेज एवम स्कूली बच्चियों को विशेष मार्गदर्शन किया

सुश्री रत्ना पैंकरा अधिवक्ता ने महिलाओं को जागरूक रहकर अपने अधिकारों का उपयोग करने की बात कही

श्रीमती माया भगत अम्बिकापुर ने महिलाओं को आत्मविश्वास पैदा करने की बात कही तथा कैसे हम सुरक्षित रह सकते है इस पर चर्चा की

सभी रिसोर्स पर्सन को ग्रामीण विकास परिषद की ओर से कलेक्टर महोदय के कर कमलों से प्रतीक चिन्ह एवम प्रमाणपत्र दिए गए तथा सभी प्रतिभागियों के आवास एवम भोजन की व्यवस्था निःशुल्क रखी गयी एवम प्रमाणपत्र भी दिए गए।संस्था के अध्यक्ष श्री रविन्द्र सिंह भाटिया ने बताया कि 120 प्रतिभाग रहे तथा 35 अन्य लोग प्रशिक्षण में सम्मिलित हुए

Follow me in social media

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *