सिविल हॉस्पिटल पत्थलगाव की रिपोर्ट-

रविन्द्र भाटिया,                             प्रधान संपादक की कलम से

 

 

 

पत्थलगाव-सिविल हॉस्पिटल पत्थलगाव का प्रवेश द्वार राष्ट्रीय राजमार्ग की ओर होने तथा पार्किंग की कोई व्यवस्था न होने से आने वाले मरीज तथा उनके परिजन हॉस्पिटल के सामने ही अपने वाहन खड़े कर देते है जिससे सड़क जाम के साथ साथ जानमाल का खतरा सदैव बना रहता है।2 दिन पूर्व अधिकारियों एवम नागरिको के सुगम यातायात तथा मार्ग अवरोध के कारणों एवम समाधान की दिशा में विचार विमर्श किये जाने के दौरान नागरिको द्वारा सुझाव दिया गया था कि हॉस्पिटल के मुख्य प्रवेश द्वार जो कि सड़क पर खुलता है उसका दबाव कम करने के लिए हॉस्पिटल का पीछे की ओर खुलने वाले बड़े दरवाजे को खुला रखा जावे ताकि मुख्यद्वार का दबाव तथा खतरा भी कम हो सके।002 वर्ष पूर्व सयुंक्त संचालक स्वस्थ सेवाएं द्वारा हॉस्पिटल का निरीक्षण के दौरान नागरिको द्वारा पिछले दरवाजे को खुला रखने के निर्देश दिए गए थे परंतु समझ से परे है कि पिछले दरवाजे को अधिकारी क्यों नही खोलना चाहते।अगर पिछले दरवाजे को खोल दिया जाता है तो पत्थलगाव शहर के नागरिकों के अलावा बहुत बड़े क्षेत्र के नागरिक इसका उपयोग करते हुए सुरक्षा की दृष्टि से भी उपयोगी होगा।प्रशासन को इस दिशा में विचार कर कार्यवाही करनी चाहिए।

Follow me in social media

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *