कलेक्टर रायगढ़ अजजा आयोग में आज तलब -आदिवासी जमीनों पर उद्योगों के अवैध कब्जे एवम प्रशासन की अनुमति पर आयोग ने कलेक्टर से शपथ पत्र में जानकारी देने कहा

कलेक्टर रायगढ़ अजजा आयोग में आज तलब
“”””””””””””””
कलेक्टर को आयोग का समन्
“””””””””
कलेक्टर से आयोग ने सभी जानकारी शपथ पत्र में मांगी
“””””
दिल्ली/ -राष्ट्रीय
अनुसूचित जनजाति आयोग भारत सरकार ने रायगढ़ कलेक्टर शमी आबदी को समन्स जारी कर आज दिल्ली तलब किया है।
रायगढ़ जिले में औद्योगिक घरानों द्वारा आदिवासियों की जमीनों पर वर्षो से लगातार नियम विरुद्ध क्रय/अधिग्रहण को लेकर आयोग की भृकुटि तन गई है और इसके चपेट में आ गई है साल भर से भी कम समय से पदस्थ कलेक्टर शमी आबदी।

              राष्ट्रीयअनुसूचित जनजाति आयोग ने गत वर्ष रायगढ़ जिले के खरसिया क्षेत्र के विभिन्न मामलों पर जांच की थी,

,किन्तु जिला प्रसाशन के उदासीन रवैया से नाराज आयोग ने रायगढ़ कलेक्टर को समन्स जारी कर आज दिल्ली तलब किया है

                 यही नही आयोग ने सख्त रवैया अपनाते हुये रायगढ़ कलेक्टर से सभी जानकारी शपथ पत्र में मांग की है, जिसे पूरा जिला प्रसाशन सकते में है।
बताया जाता है कि आयोग इस बात से नाराज बहुत नाराज है कि रायगढ़ जिले में आदिवासियों की जमीन औने पौने दाम पर खरीद कर बगैर भू-अर्जन के हजारों एकड़ जमीन विभिन्न औद्योगिक संस्थानों द्वारा ले ली गई,

                        जिले में विस्थापन, पुनर्वास नीति का कहीं भी पालन नही किया गया न ही प्रभावित आदिवासी परिवारों को नौकरी दी गई।

                    आयोग को सैकड़ों की तादात पर मिल रही शिकायतों को गम्भीरता से लेते हुये यह कड़ा कदम उठा गया है।                       

               सूत्रों से मिली जानकारी अनुसार जिले में डायवर्सन व भू-अर्जन हुये  बिना ही बड़े बड़े औद्योगीक संस्थान चल रहै है,

              जिला प्रसाशन ने    कैसे और किन कारणों से इन संस्थानों को अनुमति दी आयोग इस विषय पर गम्भीर है।

        बहरहाल वर्तमान कलेक्टर को अपने पूर्व पदस्थ कलेक्टर जिनने उपरोक्त अनुमति/अनुज्ञा जारी की है उसका शपथ पत्र देना होगा।

Purvanchal prahari

Ravindra singh bhatia

9755884666

Pathalgaon#Raipur

ppnews.in(web news portal)

ppnews44@gmail.com

Follow me in social media

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *