कलेक्टर ने ली साप्ताहिक समय-सीमा की बैठक–सभी अधिकारी अपने क्षेत्रों का भ्रमण कर लोगों के समस्या की जानकारी लेकर प्राथमिकता से करें निराकरण ” सोसायटी के माध्यम से किसानों को खाद-बीज का समय रहते करें वितरण” -कलेक्टर रितेश अग्रवाल

कलेक्टर ने ली साप्ताहिक समय-सीमा की बैठक

जशपुर नगर 04 मई 2022/कलेक्टर श्री रितेश कुमार अग्रवाल ने आज कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में साप्ताहिक समय-सीमा की बैठक लेकर मुख्यमंत्री के दौरे की आवश्यक तैयारी, टीएल के लंबित प्रकरण, मनरेगा, सी-मार्ट, मुख्यमंत्री वृक्षारोपण प्रोत्साहन योजना, पात्र हितग्राहियों का पेंशन और गौठानों में मल्टीएक्टीविटी के संबंध में समीक्षा की। उन्होंने सभी अधिकारियों को शासकीय योजनाओं लाभ जिले के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने के लिए व्यक्तिगत रूचि लेकर कार्य करने के निर्देश दिए।
कलेक्टर ने मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के प्रस्तावित दौरे कार्यक्रम की आवश्यक तैयारियों के संबंध में जानकारी लेते हुए सभी अधिकारियों को आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए । उन्होंने सभी अधिकारियों को मुख्यमंत्री के द्वारा की जाने वाले भूमि पूजन एवं लोकार्पण के कार्यो की सूची तैयार कर उपलब्ध कराने के लिए कहा। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि अपने अपने ग्राम पंचायतों का भ्रमण कर ग्रामीणों के समस्या से रूबरू होने के साथ ही उनका समाधान करना सुनिश्चित करें। साथ ही सभी लंबित प्रकरणों का निराकरण प्राथमिकता से करने के निर्देश दिए।
कलेक्टर ने जिले के सभी स्वास्थ्य केन्द्रों, आंगनबाड़ी, आश्रम-छात्रावास, स्कूल, उचित मूल्य दुकान, शासकीय कार्यालय एवं अन्य संस्थानों की साफ-सफाई, रंग-रोगन, मरम्मत, पेयजल की व्यवस्था के साथ ही वहॉ सभी प्रकार की सुविधाओं की व्यवस्था पूर्ण रखने के लिए सभी अधिकारियों को निर्देशित किया। साथ ही सभी संस्थानों में रैन वाटर हार्वेस्टिंग की व्यवस्था करने के लिए कहा। बरसात से पूर्व शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों के नालियों की साफ सफाई कराने एवं सभी हैंडपंप के पास सोकपिट, ड्रेनेज की व्यवस्था करने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिया। उन्होंने सभी पंचायतों में दीवार लेखन एवं नारे लेखन के माध्यम से सभी योजनाओं को प्रदर्शित करने के लिए कहा। उन्होंने विद्युत विभाग के अधिकारियों से जिले के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली बिल की समस्या, अनावश्यक बिजली कटौती, लो वोल्टेज की समस्या का समाधान करने और आवश्यकता वाले स्थानों में ट्रांसफार्मर की व्यवस्था करने के निर्देश दिए।
कलेक्टर ने गोधन न्याय योजना की प्रगति की समीक्षा करते हुए सभी गौठानों में गोबर खरीदी, खाद बनाने  और विक्रय की स्थिति की जानकारी ली। उन्होंने सभी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत, गौठान नोडल, ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी, सहकारिता को योजना का सफल क्रियान्वयन सुनिश्चित करने एवं अपनी जिम्मेदारियों का गंभीरता से पालन करने के निर्देश दिए। इस दौरान शहरी क्षेत्र के गौठान में वर्मी कम्पोस्ट खाद के उठाव की धीमी प्रगति पर कलेक्टर ने नाराजगी व्यक्त करते हुए सभी सीएमओ को प्रगति लाने के निर्देश दिए। उन्होंने जिले में खाद- बीज एवं उर्वरक के उठाव के संबंध में जानकारी लेते हुए अधिकारियों को इसका व्यापक प्रचार-प्रसार करने की बात कही। बैठक में कलेक्टर ने आगामी खरीफ मौसम में धान के बदले अन्य फसल लेने, फसल परिवर्तन, मुख्यमंत्री वृक्षारोपण प्रोत्साहन योजना की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को किसानों को योजना का लाभ लेने हेतु प्रोत्साहित करने के लिए कहा। इस हेतु विस्तृत कार्ययोजना तैयार कर प्रस्तुत करने के निर्देश कृषि विभाग के अधिकारी को दिए। साथ ही  ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी, आरआई, पटवारी के माध्यम से सर्वे कार्य पूर्ण कराकर कृषि रकबा और धान के बदले अन्य फसल का क्षेत्राच्छादन की जानकारी सम्मिलित करने की बात कही। उन्होंने नोडल अपेक्स बैंक एवं सहायक पंजीयक सहकारी संस्थान को समितियों के माध्यम से किसानों से खाद-बीज का समय रहते उठाव सुनिश्चित कराने के लिए कहा। जिससे कि खरीफ के मौसम में खाद की समस्या किसानों को ना रहे। साथ ही ज़िला विपणन अधिकारी को समितियों में खाद भण्डारण एवं उठाव की दैनिक रिपोर्टिंग प्रस्तुत करने करने के निर्देश दिए हैं। राष्ट्रीय राजमार्ग की कार्य प्रगति की समीक्षा  करते हुए उन्होंने कांसाबेल से पत्थलगांव एवं कुनकुरी मार्ग के सड़क निर्माण कार्य मे तेजी लाने की बात कही। साथ ही राष्ट्रीय राजमार्ग में दुर्घटनाजन्य क्षेत्रों का चिन्हांकन कर वहां मार्किंग, साईन बोर्ड लगाने के निर्देश दिए।
कलेक्टर ने  सभी राजस्व अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि लोक सेवा गारंटी के तहत दी जाने वाली सेवाएं, जाति,  निवास, आय प्रमाण पत्र  राजस्व प्रकरणों का निराकरण, नवीन राशन कार्ड, पेंशन भुगतान सहित अन्य लंबित प्रकरणों का निराकरण निर्धारित समय सीमा के भीतर करें। साथ ही  राजस्व से संबंधित नामांतरण, बंटवारा, सीमांकन, आरबीसी 6-4 के प्रकरणों का निराकरण प्राथमिकता से करने कहा है। इस अवसर पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री के.एस.मण्डावी, अपर कलेक्टर श्री आई.एल.ठाकुर, संयुक्त कलेक्टर श्री सचित भुतड़ा, सभी एसडीएम, जनपद सीईओ सहित सभी विभागों के जिला अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.