$सफलता की कहानी$ जशपुर जिले में गोधन न्याय योजना से लाभांवित हो रहे हितग्राही, 2 पशुपालकों ने किया अब तक 1 लाख से अधिक का गोबर विक्रय। 6464 पशुपालकों ने अब तक 120.59 लाख का किया गया गोबर विक्रय

जशपुरनगर 23 फरवरी 2021/छत्तीसगढ़ शासन की महत्वपूर्ण गोधन न्याय योजना का जिले में कलेक्टर श्री महादेव कावरे के मार्गदर्षन में प्रभावी ढंग से क्रियान्वयन किया जा रहा है। गोधन न्याय योजना अंतर्गत जिले में कुल पंजीकृत पशुपालकों की संख्या 6464 है। जिनके द्वारा जनवरी 2021 तक 120.59 लाख का गोबर विक्रय किया गया है एवं वर्तमान में हितग्राहियों को 104.74 लाख राशि का भुगतान किया जा चुका है।
सहायक पंजीयक सहकारी संस्थांए जिला जशपुर ने बताया कि जिले में पंजीकृत 6338 पशुपालको द्वारा 10 हजार रूपए तक का गोबर विक्रय किया गया है। 111 पशुपालकों द्वारा 10 हजार से 50 हजार तक का गोबर विक्रय किया है। 13 पशुपालको ने 50 हजार से 1 लाख तक का गोबर विक्रय किया है एवं दो पशुपालको द्वारा एक लाख से अधिक की राशि का गोबर विक्रय किया गया है। जिसके अंतर्गत विकासखंड जशपुर के आशीष सिंह परमार आत्मज बसंत सिंह परमार द्वारा हरित जशपुर गौठान में 809.95 क्ंिवटल गोबर का विक्रय किया है। जिसका उन्हें कुल 1 लाख 61 हजार 990 रूपए का भुगतान किया गया है। इसी प्रकार विकासखंड पत्थलगांव के जगजीत सिंह भाठिया ने पत्थलगांव के गौठान में 614.49 क्ंिवटल गोबर का विक्रय किया है एवं उन्हें 1 लाख 22 हजार 898 रूपए का भुगतान किया गया है। उन्होने बताया कि जिले में अब तक 925.67 क्ंिवटल जैविक खाद एवं 8.14 क्ंिवटल अन्य उत्पाद तैयार किए गए है। कलेक्टर के निर्देशानुसार महिला समूह को आत्मनिर्भर बनाने के लिए जिले के सभी गौठानों में नियमित रूप से गोबर खरीदी एवं जैविक खाद निर्माण किया जा रहा है। साथ ही गोबर विक्रेताओं को राशि का भुगतान भी नियमित रूप से किया जा रहा

Follow me in social media

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *