जवाहर लाल नेहरू महाविद्यालय शक्ति के रासेयो के छात्र चला रहे हैं आत्मनिर्भर अभियान कार्यक्रम

कन्हैया गोयल

सक्ति–वैश्विक महामारी कोविड-19 से बचाव एवं आम जनता को कोरोना संकट से निजात पाने मे जागरूक कर आत्मनिर्भर बनाने हेतु भारत सरकार एवं राज्य सरकार के निर्देश एवं मापदंडों का पालन करते हुए जवाहर लाल नेहरू महाविद्यालय सक्ती के राष्ट्रीय सेवा योजना प्रकोष्ठ के स्वयंसेवक एवं कार्यक्रम अधिकारी द्वारा अपने घर एवं गांव में खुद आत्मनिर्भर बनकर लोगों को जागरूक करने का प्रयास कर रहे हैं,

महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ. शालू पाहवा बताती हैं कि आज के इस कोरोना संकट में यह तथ्य सामने आ रहा है कि करोड़ों गरीब लोग, प्रवासी मजदूरों, छोटे किसान, छोटे व्यापारी सड़कों पर व्यवसाय करने वाले, दूसरों के घरों-दुकानों फैक्टरी काम करने वाले निचला मध्यम वर्ग भी संकट का सामना कर रहा है। इनको रोजी रोटी और देखभाल की जरूरत है।

कार्यक्रम अधिकारी डॉ देवेन्द्र शुक्ल के निर्देशन में कॉलेज के छात्र भारत सरकार के इसी आत्मनिर्भर अभियान को चरितार्थ कर रही हैं ऐसे में आत्मनिर्भर भारत संकट को अवसर में बदलने की कोशिश है, जो इस समय बहुत कारगर साबित हो सकता है। देश अगर एक जुट होकर खुद पर निर्भर होने लगे तो फिर इससे अच्छी बात कोई दूसरी नहीं हो पाएगी। एक ओर जहां एनएसएस कैडेट्स रवि गवेल एंव साथी पुर्णेश गवेल द्वारा घर मे पौधा रोपण एंव मकान निर्माण के कार्य किया जा रहा है साथ हि स्वयं सेवक वेद यादव द्वारा अपनी टीम के साथ तलाब के आस पास की सफाई का कार्य करते हुए स्वयं के आस पास की साफ सफाई का का कार्य करने हेतु ग्राम वासियों को प्रेरित किया जा रहा है एन एस एस के स्वंय सेवक चुन्नीलाल द्वारा आत्मनिर्भर बनने हेतु खाली वक्त पर अपने ग्राम मे ही होटल खोल कर अपनी आमदानी कर रहे है बहुत से स्वंय सेवक अपने खेतो मे मजदूर की जगह स्वंय काम कर रहे है एंव आत्म निर्भर भारत की तस्वीर का स्वप्न को सच बना रहे है ज्ञात हो कि रासेयो राज्य संपर्क अधिकारी पदेन उपसचिव उच्च शिक्षा विभाग छत्तीसगढ़ शासन डाॅ समरेन्द्र सिंह के निर्देशन एंव डाॅ मनोज सिन्हा कार्यक्रम समन्वयक अटलबिहारी वाजपेयी विश्वविद्यालय बिलासपुर तथा प्रो बी के पटेल जिला संगठक रासेयो जांजगीर चाम्पा के दिशा निर्देशन मे विगत तीन माह से एनएसएस के स्वंय सेवको द्वारा पुरे जिले मे कोरोना वायरस से बचाव एंव रोकथाम हेतु काफी प्रभावी प्रयास किये जा रहे है जिसमें प्रमुख रूप से आरोग्य सेतु एप,आईगॉट प्रशिक्षण के उपयोग के संबंध में आमजनों में जागृति, सामाजिक दूरी बनाए रखना, समय-समय पर साबुन या अ एल्कोहॉल युक्त सेनेटाइजर से हाथ धोने,मास्क वितरण,राशन वितरण,नारा लेखन आदि गतिविधियों में सराहनीय
योगदान जारी है।साथ हि सेनेटाइजर मशीन का निर्माण कर आमजन के उपयोग हेतु दिया गया है !

Follow me in social media

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *