जल्दी घर वापस आने की बात बोलकर घर से निकले भृत्य का छात्रावास के अंदर मिला शव

 राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग के अध्यक्ष ने जताई हत्या की आशंका

जशपुरनगर.फरसाबहार विकास खंड के तुमला के शासकीय छात्रावास में पदस्थ भृत्य की शव छात्रावास के अंदर मिली है। छात्रावास के अंदर भृत्य की शव मिलने पर लोगों ने इसे हत्या का मामला मान रहे हैं।वहीं पुलिस का इस मामले में कहना है कि हत्या की आशंका लग रही है लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही कारणों का पता चल पाएगा। राष्ट्रीय जनजाती आयोग के अध्यक्ष ने भी इसे हत्या का मामला मानते हुए पुलिस को सुक्षम जांच करने के निर्देश दिए  हैं।

तुमला बालक छात्रावास में पदस्थ भृत्य संतराम पैंकरा सोमवार को अपने घर वालों को शाम तक घर आ जाने की बात कह कर अपनी मोटर सायकल में छात्रावास के लिए निकला था।लेकिन देर शाम तक वह अपने घर वापस नहीं आया था।संतराम के घर वापस नहीं आने पर उसके परिजनों ने फोन से छात्रावास अधिक्षक तुलसी नारायण कंवर से जानकारी मांगी तो उसने बताया कि वह अभी रायपुर प्रवास पर है बताया।जिसके बाद अधिक्षक ने तुमला निवासी शिक्षक बालेश्वर निषाध से संतराम के छात्रावास में होने या नहीं होने के संबंध में जानकारी मांगी तो श्री निषाध ने अधिक्षक को बताया की संतराम छात्रावास में ही सो रहा है।अधिक्षक को फोन पर जानकारी देने के बाद श्री निषाध अपने काम से सरईटोला चौक की ओर चला गया था।इसी दौरान दाेपहर 3 बजे दूसरा भृत्य दशरथ राम छात्रावास पंहुचा और संतराम को चेनल गेट के पास सोता हुआ देखकर उसे जगाने की बुहत कोशिश की।लेकिन संतराम के नहीं जागने पर उसे किसी अनहोनी होने की आशंका होने पर सरईटोला जाकर शिक्षक बालेश्वर निषाध को जाकर बताया और दोनो वापस छात्रावास पंहुच कर इस संबंध में अधिक्षक को बताते हुए इसकी जानकारी संतराम के परिजनों को दे दी।परिजनों को इसकी सूचना मिलने पर शाम 5 बजे छात्रावास में पंहुच कर देखा तो संतराम मृत अवस्था में पड़ा हुआ था।जिसकी जानकारी उन्होने तुमला पुलिस को दे दी।

स्टाफ आपस में बैठक कर ड्युटी करने का लिए थे निर्णय

28 सिंतबर से 2 अक्टुबर तक दशहरा अवकाश होने के कारण छात्रावास में रहने वाले छात्र अपने-अपने घर चले गए थे।वहीं कार्यालयीन स्टाप की छुट्‌टी नहीं होने एवं छात्रावास के मैदान में फुटबाल प्रतियोगिता का आयोजन होने का हवाला देकर छात्रावास अधिक्षक का कहना था कि किसी को तो रहना ही पडे़गा। इस पर अधीक्षक श्री कंवर,मृतक संत राम,भृत्य दशरथ चौहान एवं भृत्य संदीप भगत ने रविवार को बैठक कर संतराम के द्वारा छात्रावास की देखरेख करने की सहमति बनी थी।बैठक में सहमती बन जाने के बाद संतराम सोमवार को छात्रावास की देखरेख करने के लिए अपने घर से निकला था।

नंदकुमार साय ने कहा हर एंगल में हो जांच

छात्रावास में भृत्य की शव मिलने की सूचना पर केंद्रीय अनुसुचित जाति के अध्यक्ष नंदकुमार साय भी मौके पर पंहुच गए थे।पुलिस जांच के दौरान श्री साय ने मौके पर पंहुचकर हत्या की आशंका व्यक्त करते हुए पुलिस को निष्पक्ष एवं हर एंगल जांच करने का निर्देश पुलिस को दी है। वहीं थाना प्रभारी केपी चौहान ने कहा कि प्रथम दृष्टया मामला हत्या का लग रहा है पोस्टमार्टम रिर्पोट आने के बाद ही कारणों का सपष्ट पता चल पाएगा। पोस्टमार्टम रिपोर्ट प्राप्त होने के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Follow me in social media

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *