राष्ट्रीय स्तर के चक्रधर समारोह में छत्तीसगढ़ लोकरंग की छटा देखने को मिलेगी-कलेक्टर * कलाकार चयन समिति की बैठक आयोजित*

Sharing is caring!


रायगढ़, 29 जुलाई 2019/ 35 वें चक्रधर समारोह का आयोजन 2 से 11 सितम्बर तक आयोजित किया जाएगा। सफल संचालन के लिए कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में कलाकार चयन समिति की बैठक आयोजित की गई। इस अवसर पर रायपुर संस्कृति विभाग के आयुक्त सह संचालक श्री ए.के.साहू, कलेक्टर श्री यशवंत कुमार, जिला पंचायत सीईओ सुश्री ऋचा प्रकाश चौधरी, सहायक कलेक्टर श्री संवित मिश्रा, उप संचालक संस्कृति श्री राहुल सिंह, संस्कृति विभाग के प्रतिनिधि श्री जे.आर. भगत, अपर कलेक्टर श्री सुखनाथ अहिरवार एवं श्री आर.ए.कुरूवंशी, कलाकार चयन समिति के सदस्यगण उपस्थित थे।


संस्कृति विभाग के संचालक श्री ए.के.साहू ने अवगत कराया कि राष्ट्रीय स्तर के गरिमामय चक्रधर समारोह में भारत के कोने-कोने से कलाकार अपने कला को दिखाते है, जिससे हमारे जिले और प्रदेश का मान बढ़ता है। उन्होंने कलाकार चयन समिति के सदस्यों की सराहना करते हुए कहा कि सभी अपने-अपने क्षेत्र में पारंगत है और इसका लाभ कलाकारों को मिलेगा। उन्होंने सभी कलाकार चयन समिति के सदस्यों से परिचय जाना और हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी चक्रधर समारोह को सफल बनाने के लिए आग्रह किया।
कलेक्टर श्री यशवंत कुमार ने बताया कि रायगढ़ जिले में 10 दिनों तक आयोजित होने वाले समारोह में राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर के कलाकार शामिल होते है और कला एवं संस्कृति की नगरी रायगढ़ के कला प्रेमियों को देखने का अवसर मिलता है। उन्होंने कहा कि कलाकार चयन समिति में विभिन्न विधाओं में पारंगत कला गुरूओं को शामिल किया गया है, ताकि कत्थक, भरत नाट्यम, शास्त्रीय संगीत, वादन, नृत्य आदि मंझे हुए कलाकारों का चयन करके मंच में उनकी प्रतिभा को दिखने का अवसर मिलेगा। उन्होंने कहा कि दस दिनों तक आयोजित चक्रधर समारोह में महिला एवं पुरूष कुश्ती-कबड्डी का भी आयोजन किया जाएगा। साथ ही कवि सम्मेलन, छत्तीसगढ़ के लोकरंग, लोक कला एवं लोक छटा की भी झलक कलाकार को देखने को मिलेगी।


राज परिवार की उर्वशी देवी ने कहा कि चक्रधर समारोह के प्रारंभ से ही कलाकारों का योगदान समारोह को सफल बनाने के लिए मिलता रहा है। जिसे नई दिशा देने में मदद मिलती है।

भजन गायक मनहर उधास, गिटार वादक मोघ मीड़ा, भजन गायक उमा शर्मा, सुफी गायक हमसर हयात, कत्थक डॉ.फणनीता साहू, गिटार अनुष्का शर्मा, भजन गायक हंसराज रघुवंशी, कत्थक पूजा भट्ठ लखनऊ घराना, छत्तीसगढ़ लोक रंग भूपेन्द्र साहू, कव्वाली में मुरारी सिस्टर एवं अनीश साबरी, पंडवानी में कोमल, जसगीत में दिनेश जांगड़े, ददरिया में रेखा देवार, विहान ग्रुप भोपाल, प्रिंस ग्रुप, कवि सम्मेलन, रायगढ़ कथक घराना आदि नामों में पर चर्चा की गई। साथ ही स्थानीय कलाकारों को अधिक से अधिक अवसर दिए जाने पर भी विस्तार से चर्चा की गई।


इस अवसर पर राज परिवार रायगढ़ के श्री भानूप्रताप सिंह, कुंवर देवेन्द्र प्रताप सिंह, देवयानी महल रायगढ़ के प्रिंसेस विजयश्री सिंह, मोती महल रायगढ़ के सुश्री उर्वशी देवी सिंह, कलागुरू श्री वेदमणी सिंह ठाकुर, कथक नृत्याचार्य श्री भूपेन्द्र बरेठ, जसगीत गायक श्री देवेश शर्मा, श्री तन्मयदास गुप्ता, श्री अजय आठले, शिक्षाविद श्री पी.एस.खोडियार, रंगकर्मी श्री तरूण बघेल, जसगीत गायक श्री दिलीप षडंग़ी, आर्टिस्ट श्री दीपक आचार्य, श्री नटवर सिंघानिया, संदीप शर्मा, भाविका पाण्डेय, वशिष्ठ यादव, एसडीएम श्री भागवत जायसवाल, प्राचार्य श्री राजेश डेनियल, प्रो.अम्बिका वर्मा, राजीव गांधी शिक्षा मिशन के जिला समन्वयक श्री रमेश देवांगन, छ.ग.कुश्ती संघ के सचिव श्री दिनेश जायसवाल, सीबी पाण्डेय, तापस चटर्जी आदि उपस्थित थे।

Follow me in social media

Sharing is caring!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *