समस्याओं को शासन तक पहुंचाने युवा बनेंगे दूत-जिला प्रशासन, यूनिसेफ और महिला बाल विकास की संयुक्त पहल

Sharing is caring!

जशपुरनगर 28 जुलाई 2019/ सामाजिक बुराईयों एवं ग्रामीण अंचल की समस्याओं की जानकारी अब गांव के बच्चे विधिवत फोटोग्राफ्स एवं वीडियो के माध्यम से जिला प्रशासन को उपलब्ध कराएगें। कलेक्टर श्री निलेशकुमार महादेव क्षीरसागर के मार्गदर्शन में जिला प्रशासन, यूनिसेफ तथा महिला बाल विकास विभाग ने इसकी पहल शुरू कर दी है।

27 जुलाई को जिला पंचायत के ऑडिटोरियम में इसको लेकर जशपुर बाल उत्सव का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में जिले के विभिन्न कॉलेजों एवं हायरसेकेण्डरी स्कूलों के लगभग डेढ़ सौ बच्चों ने भाग लिया। 
           कार्यक्रम में यूनिसेफ के कम्यूनिकेशन ऑफिसर सैमबाण्डी, रूबर्न मिशन के विशेषज्ञ शिखर श्रीवास्तव, संकल्प के शिक्षक श्री देवांगन, श्री मिथलेश पाठक, श्री राजेन्द्र प्रेमी, तथा महिला बाल विकास एवं शिक्षा विभाग के अधिकारियों की संयुक्त टीम ने युवाओं से जनसमस्याओं एवं सामाजिक बुराईयों के बारे में उनसे खुल कर बातचीत की।

युवाओं ने अपने-अपने क्षेत्र की सामाजिक एवं आर्थिक स्थिति, शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार एवं विकास के मुद्दों पर बेबाकी से अपनी बात रखी।

कार्यक्रम में  संगवारी खबरिया अम्बिकापुर से आए प्रशिक्षित युवाओं ने भी ग्रामीण अंचल की समस्याओं एवं सामाजिक कुरीतियों को सही तरीके से प्रस्तुत करने के संबंध में अपने अनुभव बांटे।  

उल्लेखनीय है कि यूनिसेफ और जिला प्रशासन द्वारा स्कूलों एवं कॉलेजों में अध्ययनरत एवं शिक्षा पूरी कर चुके युवाओं को सामाजिक सरोकार से जोड़ने के उद्देश्य से उन्हें संगवारी खबरिया के नाम से एक प्लेटफॉर्म दिया गया है।

संगवारी खबरिया से जुड़े युवा सामाजिक बुराईयों एवं जनसमस्याओं को शासन-प्रशासन तक पहुंचाने तथा उसके निदान में मदद करते हैं।

Follow me in social media

Sharing is caring!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *