इलेक्ट्रॉनिक मशीन में वोट कैसे डालें-मतदान जरूर करें*पीपीन्यूज़ की अपील*


इलेक्ट्रॉनिक मशीन में वोट कैसे डालें

रायपुर लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र के लिए आप 23 अप्रैल को अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। इसके लिए आप इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) के माध्यम से अपना वोट डालेंगे। भारत निर्वाचन आयोग व्दारा उपलब्ध कराई गई ईवीएम के माध्यम से मतदान करना काफी आसान है। ईवीएम से वोट डालने में काफी कम समय लगता है और वोट भी पूर्णतः गोपनीय और सुरक्षित रहता है। इसमें कोई वोट निरस्त नहीं होता।

 ईवीएम के साथ एक वीवीपैट मशीन भी लगी होती है। जैसे ही मतदाता ईवीएम के बैलेट यूनिट में अपनी पसंद के उम्मीदवार के नाम के चिन्ह के समक्ष नीला बटन दबाता है तो मशीन में लाल बत्ती जलती है और सीटी की आवाज पीई………..! सुनाई देती है। इसके बाद वीवीपैट मशीन की स्क्रीन में मतदाता ने जिस उम्मीदवार को अपना वोट दिया है उसकी पर्ची दिखाई देती है जिसका मतलब है कि मतदाता ने जिस प्रत्याशी को बटन दबा कर अपना वोट दिया है उसी प्रत्याशी को वोट पड़ गया है।

मतदान की प्रक्रिया
जैसे ही मतदाता अपनी मतदाता पर्ची व फोटो पहचान पत्र लेकर मतदान केन्द में प्रवेश करता है उसकी मुलाकात प्रथम मतदान अधिकारी से होगी। मतदाता उसे अपनी मतदाता पर्ची व फोटो पहचान पत्र दिखाएगा।

मतदाता की पहचान सुनिश्चित होने के बाद अधिकारी मतदाता को दूसरे मतदान अधिकारी के पास भेजेगा।

दूसरा मतदान अधिकारी मतदाता की तर्जनी उंगुली में अमिट स्याही का निशान लगाएगा और एक पर्ची देते हुए रजिस्टर में हस्ताक्षर कराएगा। 

इसके बाद मतदाता तीसरे मतदान अधिकारी के पास जाएगा और उसे अपनी अंगुली में लगी हुई अमिट स्याही दिखाएगा और फिर अनुमति मिलने पर मतदाता मतदान कक्ष में जाएगा जहां ईवीएम और वीवीपैट मशीन एक कम्पार्टमेंट में रखी होगी।

मतदान कक्ष में मतदाता अपनी पसंद के उम्मीदवार के नाम और चिन्ह के समक्ष नीले रंग का बटन दबाएगा। इसके बाद लाल रंग की बत्ती जलेगी और एक बीप यानि सीटी की आवाज पीई……! की आवाज सुनाई देगी और वीवीपैट मशीन में मतदाता ने जिस प्रत्याशी को बटन दबा कर वोट दिया उसके नाम व चुनाव चिन्ह वाली एक पर्ची 7 सेकेंड के लिए दिखाई देगी जो उसी वीवीपैट मशीन के अंदर गिर जाएगी।

यदि मतदाता किसी भी प्रत्याशी को अपना वोट देना नहीं चाहता है तो वह सारे प्रत्याशियों के बाद आखिरी में नोटा के बटन को दबा कर अपना वोट दे सकता है। नोटा का अर्थ है इनमें से किसी को नहीं।

याद रखें वोट देने के लिए जाते समय आप “मतदाता पर्ची” के साथ अपना फोटो पहचान पत्र ले जाना न भूलें। वरना आपको फिर घर आकर अपना फोटो पहचान पत्र ले जाना पड़ेगा।

Follow me in social media

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *